About

अखिल भारतीय भूमिहीन सर्घष समिती

1970 में भूमि सुधार अधिनियम के तहत गांव कंझावला में खेती के लिए जमीन आवंटित की गई यह जमीन बिल्कुल बंजर थी भूमि सुधार अधिनियम के तहत यह जमीन 5 साल के पट्टे पर आवंटित की गई थी लेकिन यह D.L.R.Act1954 में 74/4 की सूची में आता है इस नियम के तहत प्रावधान था की अगर यह जमीन खेती लायक हो गई तो यह जमीन आसामी की हो जाएगी कंझावला में सभी आसामीयो ने जमीन को खेती लायक बना दिया था इसलिए कानूनी इस जमीन का मालिक आसामी हो गया लेकिन सरकार यह पट्टे रद्द करना चाहती थी और अन्य स्वर्ण जाति के लोग इस जमीन को छुड़वाना चाहते थे इस मामले से sc-st और स्वर्ण जाति के लोगों में तनाव पैदा हो गया तब कंझावला केSC समुदाय ने भूमिहीन संघर्ष समिति का गठन किया उस वक्त के सदस्यों के नाम थे

Read More

Our Work

अखिल भारतीय भूमिहीन सर्घष समिती has built a platform to provide right guidance
for right track and proper channel.

अखिल भारतीय भूमिहीन सर्घष समिती.
योग्यताएं

सदस्यता-शपथ पत्र में उल्लेखित सभी सदस्य,कार्यकारणी के सभी सदस्य और वो हर व्यक्ति जो संस्था के नियमों और उद्देश्यों को मानता हो और जिसे की कार्यकारिणी सदस्य के रुप में स्वीकार करें,वो संस्था का सदस्य बन सकता है..धर्म ,जाति या लिंग के आधार पर सदस्यता के लिए कोई बंदिश नही होगी ।अन्य योग्यताएं इस प्रकार होगी:-

(1)कोई भी व्यक्ति (पुरुष या महिला) जिसकी आयु 18 वर्ष से अधिक हो वह संस्था का सदस्य बन सकता है
(2)-वह किसी प्रकार से नैतिक दोषी न हो तथा किसी अपराध में न्यायालय से किसी प्रकार दण्डित न किया गया हो ।
(3)-संस्था के उद्देश्यों में अपनी पूर्ण आस्था रखता हो तथा नियम व उपनियम का पालन करने को वचनबद्ध हो।
(4)-देशहित व सामाजिक कार्य करने का जज्ब़ा रखता हो।
(ii)सदस्यता शुल्क:- साधारण सदस्य बनने के लिए सदस्य शुल्क10/-(दस रुपये)सालाना है।जो नियत समय पर संस्था में जमा कराना आवश्यक होगा।

We're working on charity projects for millions of people in India.

Pure Water
For Poor People
Healty Food
For Poor People
Medical
Facilities for People
Pure Education
For Every Children

Become a Volunteer

It only takes a minute to set up a campaign. Decide what to do. Pick a name. Pick a photo. And just like that, you’ll be ready to start raising money.